TMC ने चुनाव अयोग से की PM मोदी की केदारनाथ यात्रा की शिकायत

New Delhi : पश्चिम बंगाल में सत्तारुढ़ TMC ने मोदी की केदारनाथ यात्रा की चुनाव आयोग से शिकायत की है। टीएमसी ने कहा कि वहां जाकर मोदी विकास परियोजनाओं का जायजा भी ले रहे हैं साथ ही वहां से वोटरों को प्रभावित करने की कोशिश भी की जा रही है। मोदी-मोदी के नारों के जरिए मतदान के बीच वोटरों पर असर डालने की कोशिश की जा रही है। 

टीएमसी ने अपनी चिट्ठी में कहा कि चुनाव आयोग इस पर आंख और कान बंद करके बैठा हुआ है। पार्टी ने आयोग से तुरंत कार्रवाई की मांग करते हुए कहा कि इस तरह का चुनाव प्रचार नैतिकता के खिलाफ और गलत है।  टीएमसी ने कहा है कि अंतिम चरण के लिए चुनाव प्रचार खत्म हो चुका है लेकिन पीएम मोदी की केदारनाथ यात्रा की पिछले 2 दिनों से मीडिया में बड़ी कवरेज हो रही है। ममता बनर्जी की पार्टी का आरोप है कि यह चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है।

वहीं, शनिवार को बाबा केदारनाथ के दर्शन करने के बाद PM नरेंद्र मोदी रविवार को बद्रीनाथ धाम पहुंचे। यहां मोदी ने मंदिर में करीब 45 मिनट पूजा-अर्चना की। इसके बाद मंदिर से बाहर निकलकर उन्‍होंने लोगों से मुलाकात की। PM मोदी रविवार की सुबह ही केदारघाटी में स्थित गरुड़चट्टी की गुफा से ध्‍यान साधना करके निकले थे। उन्‍होंने इस गुफा में पूरी रात प्रवास किया। इसके बाद उन्‍होंने केदारनाथ मंदिर में जाकर पूजा अर्चना की। PM मोदी ने पूजा के बाद मीडिया से बात की। उन्‍होंने इस यात्रा के संबंध में चुनाव आयोग का आभार जताया। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग का आभार कि मैं 2 दिन आराम कर पाया।

पीएम मोदी ने कहा कि मैं भगवान से कभी कुछ नहीं मांगता। मैं मांगने की प्रवृत्ति से सहमत नहीं हूं। मेरा सौभाग्य रहा है कि आध्यात्मिक चेतना की भूमि पर जाने का मुझे कई वर्षों से अवसर मिलता रहा है। यहां का मेरा जो डेवलपमेंट मिशन है, उसमें प्रकृति, पर्यावरण और पर्यटन हैं।