बब्बू मान, जिसके गाने सुनते हुए हम बड़े हुए, खुशी हो या गम हर जगह हिट रहे पाजी

New Delhi : 90 का दौर था। You tube को एक्का दुक्का लोग ही जानते थे। उस दौर में कैसेट चलती थी, वो काली रील वाली कैसेट। एक कैसेट में 10-12 गाने आ जाते थे। उस दौर के हीरो थे बब्बू मान। हर जगह उनके ही गाने सुनने को मिलते थे। यहां तक कि आज के कई यंग लड़के उनके ही गाने सुनकर बड़े हुए होंगे।

बब्बू और उनके भाई हरभजन मान का पंजाबी ही नहीं, हिंदी बेल्ट में भी पूरा गर्दा था। बब्बू की एक कैसेट बाजार में आते ही लोग उसे खरीदने के लिए टूट पड़ते थे। हर किसी के डैक में सुबह हो या शाम, बब्बू के ही गाने चलते थे। बब्बू मान का जन्म 1975 में पंजाब के फतेहगढ़ में हुआ था। बब्बू मान का वास्तविक नाम तेजिंदर सिंह मान है। उन्हें बचपन से ही गायक बनने का शौक था। उन्होंने अपनी पहली लाइव पर्फोर्मेंस महज 7 साल की उम्र में की। इसके लिए उन्होंने कड़ी मेहनत भी की।

आखिरकार उनकी मेहनत पर मुहर साल 1999 में लगी। लंबे संघर्ष के बाद मान की पहली एल्बम ‘तू मेरी मिस इंडिया’ रिलीज हुई। इस एल्बम के बाद मान को वो मुकाम हासिल हुआ जिसकी हर गायक को इच्छा होती है। इस एल्बम का सबसे हिट गाना ‘नींद्रां नी ओंदियां’ रहा। इस गाने की शूटिंग मुंबई में एक बंगले में हुई।

बब्बू मान के गाने की शूटिंग खत्म होने के बाद पंजाबी गायक गुरुदास मान ने भी अपने गाने ‘जादूगरियां’ की शूटिंग यहीं पर की। शूटिंग खत्म होने के बाद तड़के 5 बजे गुरुदास मान सेट पर पहुंचे और बब्बू मान को उनकी पहली एल्बम के लिए बधाई दी। इस एल्बम के रिलीज होने के बाद बब्बू मान को पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री में पहचान मिल गई थी। एल्बम हिट हो चुकी थी प्रशंसक उनकी अगली एल्बम का इंतजार कर रहे थे।

बब्बू मान ने अपनी दूसरी और उनकी सबसे हिट एल्बम ‘सौन दी झड़ी’ रिलीज की। साल 2001 में बब्बू मान अपनी इस एल्बम को रिलीज किया और इसकी लाखों कॉपियां ना सिर्फ भारत बल्कि विदेश में भी बिकीं। जानकारी के मुताबिक यह उस साल की सबसे ज्यादा बिकने वाली एल्बम थी। इसमें बब्बू मान ने रोमांस का तड़का लगाया तो हथियार भी चमकाए। इस एल्बम में एक तरफ उन्होंने ‘दिल तां पागल है’ जैसे गाने गाए तो ‘कब्जा’ जैसे गानों को भी शामिल किया। फिर तो बब्बू का जलवा ही जलवा लेकिन अब ये जलवा कम हो गया है क्योंकि यू ट्यूब ने जमाने को बदल दिया।

सुनिए उनका एक मस्त गाना