गुरु आरचरेकर को याद करके भावुक हुए सचिन, कहा-क्रिकेट ही नहीं उन्होंने बहुत कुछ सिखाया

New Delhi : शिक्षक दिवस पर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने अपने बचपन के कोच रमाकांत आचरेकर को याद किया है। गुरुवार को 46 साल के सचिन ने ट्वीट कर बताया कि आचरेकर सर ने उन्हें क्रिकेट के मैदान और जीवन में ‘स्ट्रेट’ खेलना सिखाया। सचिन ने उस क्षण की तस्वीर भी साझा की है, जब उन्होंने अपने गुरु से बल्लेबाजी की तकनीक सीखी थी।

सचिन ने ट्वीट कर लिखा, ‘शिक्षक न केवल शिक्षा प्रदान करते हैं, बल्कि जीवन मूल्य भी सिखाते हैं। आचरेकर सर ने मुझे मैदान और जीवन में सीधा खेलना सिखाया। मैं अपने जीवन में उनके अमूल्य योगदान के लिए हमेशा आभारी रहूंगा। उनकी सिखाई बातें आज भी मेरा मार्गदर्शन करती हैं।’

सचिन तेंदुलकर ने मुंबई के शिवाजी पार्क स्थित अकादमी में रमाकांत आचरेकर के मार्गदर्शन में क्रिकेट के गुर सीखे। सचिन के अलावा इस अकादमी से विनोद कांबली, प्रवीण आमरे, अजीत अगरकर, रमेश पोवार जैसे खिलाड़ी भी निकले। रमाकांत आचरेकर को 1990 में प्रतिष्ठित द्रोणाचार्य पुरस्कार और 2010 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था।

कोच रमाकांत आचरेकर ने ही सचिन को 11 साल की उम्र में बांद्रा स्थित न्यू इंग्लिश हाई स्कूल से शारदाश्रम विद्या मंदिर स्कूल में जाने का सुझाव दिया था, ताकि वो क्रिकेट को अधिक समय दे पाएं। आचरेकर का 87 वर्ष की उम्र में 2 जनवरी 2019 को निधन हो गया।