पूर्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने दो दिनों में ही खाली कर दिया सरकारी बंगला..

New Delhi : अयोध्या विवाद पर ऐतिहासिक फैसला देने वाले पूर्व चीफ जस्टिस रंजन गोगोई 17 नंवबर को रिटायर हो चुके हैं। रिटायरमेंट के दो दिनों बाद ही उन्होंने अपना सरकारी बंगला खाली कर दिया है।

बता दें कि रंजन गोगोई को उनके कार्यकाल के दौरान नई दिल्ली के 5 कृष्णन मार्ग पर सरकारी बंगला दिया गया था। जिसे उन्होंने रिटायर होने के महज दो दिनों बाद ही खाली कर दिया।

आम तौर पर न्यायाधीशों को बंगला खाली करने के लिए एक महीने का समय मिलता है लेकिन रंजन गोगोई ने वक्त से पहले ही सरकारी संपत्ति सरकार को सौंप दी है।

रिटायरमेंट से पहले रंजन गोगोई ने अयोध्या मंदिर-मस्जिद के जमीनी विवाद पर ऐतिहासिक फैसला दिया था। अपने कार्यकाल के आखिरी दिन जस्टिस गोगोई सुप्रीम कोर्ट के रूम नंबर एक में कुछ देर के लिए बैठे थे, जहां उन्हें विदाई दी गई और उनके प्रति आभार व्यक्त किया गया।