आज ही अपने नजदीकी बैंक में जाकर खोलिए ये अकाउंट..इसमें हर महीने 5 हजार रुपए देगी मोदी सरकार

New Delhi :  असंगठित क्षेत्र के ऐसे लोग जिनकी कंपनी में रिटायरमेंट के बाद पेंशन जैसी कोई पॉलिसी नहीं है, वे अटल पेंशन योजना का लाभ उठा सकते हैं। भविष्य को सुरक्षित करने के लिए यह एक बेहतर स्कीम है। इसमें आपको 1 हजार रुपए से लेकर 5 हजार रुपए मासिक तक की पेंशन मिल सकती है।

कितनी पेंशन मिलेगी यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप हर महीने कितना कॉन्ट्रीब्यूशन कर रहे हैं। इस स्कीम का नाम बदलकर अब स्वालम्बन योजना कर दिया गया है। इसे पेंशन फंड्स रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (PFRDA)द्वारा संचालित किया जा रहा है। इसमें 50% कॉन्ट्रीब्यूशन सरकार द्वारा किया जाता है। जानिए इसके बारे में पूरी डिटेल।

कौन कर सकता है अप्लाई : भारतीय नागरिक होना जरूरी। उम्र 18 से 40 साल के बीच होना चाहिए। कम से कम 20 साल तक कॉन्ट्रीब्यूशन करना जरूरी। बैंक अकाउंट होना जरूरी। अकाउंट आधार से लिंक होना चाहिए। वैलिड मोबाइल नंबर होना जरूरी।

अप्लाई कैसे करें : किसी भी बैंक में जाकर अकाउंट ओपन करवा सकते हैं। अटल पेंशन योजना का फॉर्म ऑनलाइन डाउनलोड कर सकते हैं। इस फॉर्म को भरकर आपको बैंक ब्रांच में जमा करना होगा। इसके साथ में अपना मोबाइल नंबर और आधार कार्ड की फोटोकॉपी भी जमा करनी होगी। एप्लीकेशन अप्रूवड होने के बाद आपके पास कंफर्मेशन का मैसेज आएगा।

कैसे करना होगा कॉन्ट्रीब्यूशन : इन्वेस्टर्स मंथली, क्वाटरली या सेमी-एनुअल यानी छ माह की अवधि में निवेश कर सकते हैं। कॉन्ट्रीब्यूशन ऑटो-डेबिट हो जाएगा। यानी आपके अकाउंट से तय राशि अपने आप कट जाएगी और आपके पेंशन खाते में जमा हो जाएगी। अमाउंट कितना कटेगा यह इस बात पर निर्भर करेगा कि आप रिटायरमेंट के बाद कितनी पेंशन चाहते हैं।

इनकम टैक्स बेनीफिट भी मिलेगा? : जी हां, इसमें आप सेक्शन 80सी के तहत 1.5 लाख रुपए तक टैक्स बेनीफिट क्लेम कर सकेंगे। – इसमें सब्सक्राइबर प्रीमियम राशि बढ़ा भी सकते हैं। पेमेंट में देरी होने होने पर प्रत्येक 100 रुपए पर 1 रुपए की पेनाल्टी चुकाना होगी। लगातार छ महीने तक कोई राशि जमा नहीं होती तो अकाउंट को बंद कर दिया जाएगा। इसमें बीच में राशि नहीं निकाली जा सकती। मौत होने या गंभीर बीमारी की दशा में ही बीच में राशि निकाली जा सकती है।