सर्जिकल स्ट्रा’इक के तीन साल…जब भारत ने लिया ऐसा बदला, पूरा पाकिस्तान कांप गया

New Delhi : 3 साल पहले (29 सितंबर 2016) आज ही के दिन भारतीय ने आ’तंकी ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्रा’इक कर उरी ह’मले के श’हीदों का बदला लिया था। यह दिन भारतीय सेना के इतिहास में विशेष महत्व रखता है। भारतीय सेना ने एलओसी (LoC) पार कर पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में घुसकर आ’तंकियों को मौ’त के घा’ट उतार दिया था।

आ’तंकवादियों ने 18 सितम्बर 2016 को सुबह साढ़े 5 बजे उरी सेक्टर के पास स्थित आर्मी हेडक्वार्टर पर हम’ला किया था। आ’तंकियों की योजना थी कि निहत्थे और सोते हुए जवानों पर ता’बड़तो’ड़ फायरिंग कर ज्यादा से ज्यादा जवानों को मा’रा जाए। इस ह’मले में सेना के 18 जवान श’हीद हुए थे। चारों आ’तंकियों को सेना ने मा’र गि’राया था। भारत सरकार ने इस हमले को बहुत गंभीरता से लिया और आ’तंकियों पर सर्जिकल स्ट्रा’इक करने का फैसला लिया गया।

ऑपरेशन के लिए भारतीय सेना ने पैराशूट रेजिमेंट (स्पेशल फोर्स) Para SF को चुना। ऑपरेशन PoK में रात 12:30 बजे शुरू हुआ।2- Para SF के कमांडो को हेलिकॉप्टर से LoC पर उतारा गया। कमांडो ने कुछ किलोमीटर की दूरी रेंगकर तय की। सेना को आ’तंकी ठिकानों की पहले से सटीक जानकारी थी। कमांडो अत्याधुनिक ह’थियारों से पूरी तरह से लैस थे। ऑपरेशन सुबह 4:30 बजे खत्म हुआ। सेना ने PoK में चार अलग-अलग सेक्टर में ऑपरेशन किए। करीब 40-50 आ’तंकियों को मा’र गि’राया गया। आ’तंकि’यों के 7 कैंप पूरी तरह ध्व’स्त कर दिया गया। का’र्रवाई के बाद सभी सैनिक सही सलामत वापस लौट आए।