अपने कर्मचारियों को छप्पर फाड़कर गिफ्ट देते हैं सावजी भाई ढोलकिया…आज है इनका जन्मदिन

New Delhi : हर साल दिवाली पर एक ही कंपनी की चर्चा होती है। ये कंपनी अपने कर्मचारियों को छप्पर फाड़कर गिफ्ट देती है। जी हां हम बात कर रहे हैं सूरत की कृष्ण डायमंड की। अपने कर्मचारियों को हर साल दिवाली पर धमाकेदार बोनस देने वाली कंपनी के ऑनर सावजी भाई ढोलकिया आज 57 साल के हो गए।

ये वही कंपनी है जो पहली बार कर्मचारियों को मकान, कार और ज्वैलरी देने के बाद सुर्खियों में आई थी। कंपनी ने पिछली दिवाली 600 कर्मचारियों को कार और 1100 कर्मचारियों को मकान, बैंक एफडी और ज्वैलरी गिफ्ट की थी। ये इंडिया की ऐसी कंपनी बन चुकी है जिसमें हर इंसान काम करने का सपना देखता है। अब हम आपको बता रहे हैं इस कंपनी में नौकरी लगती कैसे है।

क्वालिफिकेशन और एक्सीपियंस : कंपनी में जॉब के लिए ग्रेजुऐशन 10वीं और 12वीं पास लोग भी अप्लाई कर सकते हैं। कंपनी का कहना है कि मैन्युफैक्चरिंग यूनिट में जॉब के लिए क्वालिफिकेशन से ज्यादा डायमंड के काम के बारे में पता होना चाहिए। यानी कोई 10वीं पास है, लेकिन उसे डायमंड की प्लानिंग, कटिंग और पॉलिशिंग का अनुभव है, तो उसे यहां जॉब मिल सकती है।

ऐसे करें अप्लाई : यहां आवेदन करने के लिए आपके पास पहले से कंपनी में काम करने वाले लगभग 8000 एम्पलाई में से किसी एक का रिफरेंस होना चाहिए। यदि आपके पास रिफरेंस नहीं है तब अप्लाई नहीं कर पाएंगे। जब कंपनी में काम कर रहे किसी कर्मचारी का रिफरेंस होता है तब एपलीकेंट से एक फॉर्म फिल कराया जाता है। जिसमें उसे सारी डिटेल देना होती है। इस फॉर्म के आधार पर ही आगे इंटरव्यू किया जाता है।

कितनी मिलेगी सैलेरी : इस डायमंड कंपनी में यदि आपको सैलेरी अर्न करना होती है। इसके बाद भी एम्पलाई 35 हजार रुपए तक की हर महीने कमाई कर सकता है। क्योंकि कंपनी रेवेन्यू मोड पर काम करती है ऐसे में यदि किसी कर्मचारी का काम अच्छा है तो उसका प्रॉफिट भी उसे मिलता है। जिसके चलते वो 1 लाख रुपए तक भी कमा सकता है।

कंपनी में मिलने वाली सुविधाएं : 1. एम्पलाई को 1 लाख रुपए का मेडिकल हर साल और 1 करोड़ रुपए का डेथ इंश्योरेंस मिलता है। 2. हर साल दो फ्री यूनिफॉर्म, हेलमेट मिलता है। एम्पलाई के लिए बस सुविधा है। 3. क्रिकेट ग्राउंड, स्विमिंग पूल, जिम, योगा सेशन भी दिए जाते हैं। 4. एम्पलाई के बच्चों की स्कूल फीस के साथ बुक्स का खर्च भी कंपनी देती है। 5. मंडे टू फ्राइडे फ्री लंच मिलता है। वहीं, सटरडे टिफिन डे होता है। 6. हर 3 साल में एम्पलाई के पेरेंट्स को हरिद्वार की ट्रिप कराई जाती है। जिसमें करीब 1 हजार पैरेंट्स शामिल होते हैं। 7. नवरात्रि, होली समेत सभी फेस्टिवल की छुट्टी। दिवाली पर सभी को 20 दिन की छुट्टी। 8. समर वेकेशन के लिए भी 10 दिन की छुट्टी दी जाती है।