मां के शव को घर पहुंचाकर दोनों भाई ने पहले बूथ जाकर किया मतदान

New Delhi :  बिहार के धनबाद के भूली थाना क्षेत्र में रविवार सुबह एक 55 वर्षीय महिला की मौत हो गई। महिला की मौत के बाद उनके दो बेटों ने अपने बूथ पर जाकर पहले मतदान किया और फिर वहां से लौटकर मां का अंतिम संस्कार किया। बेटों ने कहा कि मतदान उनका अधिकार है और पहले मतदान जरुरी था।

मृतका मुन्नी देवी (55) के बेटे दीपक गुप्ता ने बताया कि शनिवार शाम को उनकी मां का अचानक ब्लड प्रेशर बढ़ गया। इसके बाद इलाज के लिए उन्हें अशर्फी अस्पताल ले गए। जहां से उन्हें पहले पीएमसीएच फिर रांची रिम्स लाया गया। वहां रविवार को इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। दीपक ने बताया कि हम सुबह शव लेकर घर पहुंचे। फिर शव को घर में रखकर अपने भाई रोहित के साथ जाकर मतदान किया।

धनबाद लोकसभा सीट पर त्रिकोणीय मुकाबला है। यहां मुख्य रूप से मुकाबला भाजपा प्रत्याशी पशुपतिनाथ सिंह, कांग्रेस प्रत्याशी कीर्ति आजाद और निर्दलीय प्रत्याशी सिद्धार्थ गौतम के बीच है। सिद्धार्थ गौतम धनबाद लोकसभा सीट के अंतर्गत झरिया विधानसभा सीट से विधायक संजीव सिंह के छोटे भाई हैं।