दूल्हे ने अपनी दुल्हन के पैरों में झुकाया अपना सिर, इसको ले दूल्हे का जवाब जानकर आप भी देंगे शाबाशी

New Delhi : सोशल मीडिया के दौर में समाजिक और वैचारिक मूल्य भी नये सिरे से परिभाषित हो रहे हैं। कभी-कभी ऐसा आभास तो जरूर होता है कि समाज नये बदलावों को लेकर ज्यादा सचेत होता जा रहा है और मेंटली उसे स्वीकार करने के लिये भी तैयार होता जा रहा है। ट‍्विटर पर वायरल एक तस्वीर इस बात की तस्दीक भी करती है। इस तस्वीर में दूल्हा शादी होते ही अपने पत्नी के पैरों में लोट गया है। इंटरनेट पर यह तस्वीर खूब वायरल हो रही है। दूल्हा अपनी दुल्हन की चरणों में सिर झुकाये दिख रहा है। इस तस्वीर को देखकर लोग हैरान भी हैं और खूब पसंद भी कर रहे हैं। लोग इसे इतना पसंद कर रहे हैं और प्रशंसा के इतने कमेंट कर रहे हैं कि फोटो देखते ही देखते वायरल हो गई है।

इस तस्वीर के वायरल होने के पीछे कई वजहें भी हैं। खास बात यह है कि दूल्हा दुल्हन की पैरों में झुका हुआ है जबकि भारतीय परंपरा के अनुसार, दुल्हन शादी के बाद अपने पति के पैर छूती है। इस तस्वीर को देखकर एक सवाल भी उठ रहा है आखिर क्यों? ट्विटर पर वायरल हुई इस तस्वीर को डॉ. अजीत वारवंडकर ने अपने ऑफिशियल अकाउंट पर शेयर किया है। इस तस्वीर को शेयर करते हुये उन्होंने दिल को छू लेने वाला कैप्शन लिखा है। डॉ. अजीत ने लिखा है- जब शादी समारोह का कार्यक्रम पूरा हुआ, तो दूल्हे ने दुल्हन के चरणों में सिर झुकाया, तो शादी समारोह में मौजूद सभी घरवाले और बाराती दंग रह गये।
अब आपको बताते हैं कि वायरल हो रही इस तस्वीर के पीछे दूल्हे का तर्क क्या है। आप भी इस तर्क को सुनकर भावविभोर हो जायेंगे। डॉ. अजीत ने दूल्हे की तरफ से जवाब लिखा है – मेरी वंश को यही आगे बढ़ायेगी, मेरे घर की लक्ष्मी कहलायेगी। मेरी मां-बाप की इज्जत करेगी और उनकी सेवा करेगी। मुझे पिता जैसी खुशी प्राप्त करवायेगी। प्रसव के समय मेरे बच्चे के लिये मौत को छूकर आयेगी। इसी से मेरे घर की नींव है। इसके व्यवहार से ही समाज में मेरी पहचान बनेगी। अपने मां-बाप को छोड़ कर यह मेरे लिये मेरे पीछे आई है। अपनों से नाता तोड़कर उसने मुझसे नाता जोड़ा है।
आखिर में डॉ. अजीत वारवंडकर ने लिखा है- जब वो इतना सब कर सकती है तो क्या हम थोड़ा सा सम्मान भी नहीं दे सकते क्या? इन महिलाओं के कदमों में सिर झुकाना हास्य है तो मुझे जमाने की परवाह नहीं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *