सलीम खान बोले- राधे अच्छी फिल्म नहीं है लेकिन कुछ प्रोफेशनल मजबूरियां होती हैं

New Delhi : दिग्गज पटकथा लेखक और अभिनेता सलमान खान के पिता सलीम खान ने कहा है कि “राधे : योर मोस्ट वांटेड भाई” कोई अच्छी फिल्म नहीं है। उन्होंने कहा कि दबंग 3 एक अलग तरह की मूवी थी और बजरंगी भाईजान एक बेहतरीन और पूरी तरह से अलग फिल्म थी। उन्होंने इस मसले पर बात करते हुए राधे को लेकर अफसोस जताया। राधे ईद पर रिलीज हुई जिसमें सलीम के बड़े बेटे सलमान खान मुख्य भूमिका में थे। तमाम प्रचार प्रसार के बाद भी यह फिल्म सुपर डुपर हिट फलॉप हो गई है। इसको लेकर सलमान खान एंड कंपनी में गंभीर मंथन का भी दौर है और बौखलाये सलमान खान ने पहले पायरेसी का केस दर्ज कराया फिर कमाल राशिद खान को मानहानि का नोटिस थमा दिया। यही नहीं राधे ने IMDb पर सबसे घटिया रेटिंग वाली फिल्म की श्रेणी में चली गई है।

यह IMDb पर 1.7/10 के स्कोर के साथ सलमान खान की सबसे कम रेटिंग वाली फिल्म बन गई है। प्रभुदेवा द्वारा निर्देशित इस फिल्म में दिशा पटानी, रणदीप हुड्डा, जैकी श्रॉफ और गौतम गुलाटी भी हैं। दैनिक भास्कर के साथ एक साक्षात्कार में, जब पूछा गया कि समीक्षकों को राधे में सलमान की पिछली फिल्मों की पुनरावृत्ति महसूस हो रही है, तो सलीम ने हिंदी में कहा- इससे पहले की दबंग 3 फिल्म अलग किस्म की थी। बजरंगी भाईजान अच्छी और पूरी तरह से अलग थी। राधे एक बहुत अच्छी फिल्म नहीं है लेकिन व्यावसायिक सिनेमा की जिम्मेदारी है कि हर व्यक्ति को पैसा मिले। कलाकार से लेकर निर्माता, वितरक, प्रदर्शक और हर हितधारक को पैसा मिले। सिनेमा खरीदने वाले को पैसा मिलना चाहिए। इसके कारण, सिनेमा बनाने और कारोबार का सिलसिला चलता रहता है। इसी आधार पर सलमान ने अभिनय किया है। इस फिल्म के हितधारक फायदे में हैं। नहीं तो राधे इतनी बड़ी फिल्म नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *