ट‍्विटर को अंतिम चेतावनी- नियमों का पालन करो नहीं तो बोरिया बिस्तर समेटने के लिये हो जाओ तैयार

New Delhi : सरकार ने शनिवार को ट्विटर को नये आईटी नियमों का ‘तुरंत’ पालन करने का एक आखिरी मौका देते हुये एक नोटिस जारी किया है। केंद्र सरकार ने चेतावनी दी है कि मानदंडों का पालन करने में विफलता से प्लेटफॉर्म को आईटी अधिनियम के तहत देयता से छूट मिल जायेगी। इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा कि नियमों का पालन करने से ट्विटर के इनकार ने माइक्रोब्लॉगिंग साइट की ‘प्रतिबद्धता की कमी और भारत के लोगों के लिए अपने मंच पर एक सुरक्षित अनुभव प्रदान करने के प्रयासों की कमी’ को प्रदर्शित किया।

आईटी मंत्रालय ने कहा- भारत में एक दशक से अधिक समय से कार्यरत होने के बावजूद यह विश्वास से परे है कि ट्विटर इंक ने ऐसा तंत्र बनाने से इनकार कर दिया है जो भारत के लोगों को समय पर और पारदर्शी तरीके से और निष्पक्ष प्रक्रियाओं के माध्यम से मंच पर अपने मुद्दों को हल करने में सक्षम बनायेगा।
मंत्रालय ने कहा- ट्विटर के नियमों का पालन न करने के कारण सद्भावना के संकेत के रूप में, ट्विटर इंक को नियमों का तुरंत पालन करने के लिये एक अंतिम नोटिस दिया गया है। पहले भी नोटिस दिया गया था लेकिन अभी तक इसको प्रभावी नहीं किया गया है। अगर इस बार ट‍्विटर ने नियमों का अनुसरण करना शुरू नहीं किया तो उपलब्ध दायित्व से छूट वापस ले ली जाएगी और ट्विटर आईटी अधिनियम और भारत के अन्य दंड कानूनों के अनुसार परिणामों के लिये उत्तरदायी होगा।’ हालाँकि, नोटिस में नियमों का पालन करने के लिए एक विशिष्ट समय सीमा नहीं दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *